Tue. May 28th, 2024

सभी किसान साथियों का आज की इस पोस्ट में स्वागत है | आज की इस पोस्ट में हम आपको चने के भाव chane ka bhav की साप्ताहिक तेज़ी मंदी की जानकारी देंगे | देखिये किसान साथियों पिछला सप्ताह सुरुवात सोमवार दिल्ली राजस्थान लाइन मील 6325/50 रुपये पर खुला था, और शनिवार शाम चना 6225/50 रुपये पर बंद हुआ। साथियों बीते सप्ताह के दौरान चना दाल बेसन में मांग न रहने से -100 रुपये प्रति क्विंटल की गिरावट दर्ज हुआ, आवक बढ़ने और सुस्त मांग से सप्ताह के दौरान चना में कमजोरी।

दोस्तों चना खाद्य पदार्थों में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है और यह खाद्यांश भोजन में सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। चने के आहार में प्रोटीन, विटामिन, खनिज और फाइबर का उत्कृष्ट स्त्रोत होते हैं। चना मुख्य रूप से उत्तर भारत में उगाए जाते हैं और ये भारतीय खाने की प्रमुख सामग्रियों में से एक हैं। यह दाल, सूखी सब्जियां, और उबले हुए चने के रूप में उपयोग किया जाता है।

साथियों चने में अच्छी मात्रा में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन, और खनिज जैसे मिनरल्स होते हैं और इसका सेवन करने से आपको ऊर्जा मिलती है, मांसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है, और पेट स्वस्थ रहता है। साथ ही चने का सेवन खून की शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करता है और हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। इसके अलावा, चने में विटामिन सी, फोलेट, और अन्य विटामिन भी होते हैं जो शरीर के लिए आवश्यक होते हैं।

यह भी पढ़ें 👉:- आज का सरसों का भाव 22 अप्रैल 2024

किसान साथियों चने का सेवन आपको वजन घटाने में भी मदद कर सकता है क्योंकि इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा होती है जो भोजन को दिगेस्ट करने में मदद करती है और भोजन के पचन को बेहतर बनाती है। साथ ही, चने में एंटीऑक्सिडेंट्स भी होते हैं जो शरीर को कैंसर और अन्य बीमारियों से बचाने में मदद कर सकते हैं। इसलिए दोस्तों चने को अपने आहार में शामिल करके सेहतमंद जीवन जीने के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। आइये अब हम आपको चने के भाव chane ka bhav की साप्ताहिक तेज़ी मंदी के बारे में बताते हैं |

चने के भाव Chane Ka Bhav की साप्ताहिक रिपोर्ट

  1. दिल्ली चना में सप्ताह के दौरान रही 100 रुपये प्रति क्विंटल की गिरावट।
  2. चना दाल में ऊपर भाव में कमजोर उठाव के कारण मिलर्स की पूछपरख सुस्त।
  3. इस बीच मध्य प्रदेश और राजस्थान में चना की आवक में सुधार से भी भाव पर दबाव।
  4. नाफेड ने अब तक लगभग 90,000 टन चना की खरीदी MSP पर की।
  5. पिछले साल अब तक चना खरीदी 10.80 लाख टन हो चुकी थी।
  6. त्योहारी छुट्टियां ख़त्म होने से अब मंडियों में आवक बढ़ रही।
  7. चना का दाम MSP के आसपास या ऊपर होने से भी किसानों की बिकवाली बढ़ी।
  8. स्टॉकिस्टों ने पिछले 15-20 दिनों में काफी खरीदी करने से उनका कोटा लगभग पूरा।
  9. आवक बढ़ने के कारण भाव में गिरावट की उम्मीद को देखते हुए मिलर्स जरुरत अनुसार खरीदी कर रहे।
  10. इस साल शादियों का सीजन छोटा होने से भी खपत मांग उम्मीद से कम रही।
  11. देश में इस साल सस्ता मटर आयात होने से भी चना की खपत मांग पर असर।
  12. दिसंबर से अब तक लगभग 12.5-13 लाख टन मटर आयात होने का अनुमान।

आगे कैसा रहेंगे चने के भाव chane ka bhav

  1. आवक बढ़ने की उम्मीद से दाम में गिरावट की उम्मीद।
  2. जानकारों के अनुसार 150-200 की कमजोरी की संभावना।
  3. विशेषज्ञों के अनुसार 3-6 माह के नजरिये से चना फंडामेंटल मजबूत।
  4. दिल्ली चना (राजस्थान को 6000-6100 की रेंज में मजबूत सपोर्ट।
  5. दिल्ली चना 6400 के रेजिस्टेंस के ऊपर ही अच्छी मजबूती की संभावना।
  6. 2-4 सप्ताह के नजरिये से सिमित कारोबार करना बेहतर।
  7. सरकारी पोर्टल पर चना अपडेट अनिवार्य रूप से करें।

किसान साथियों ये थी चने के भाव chane ka bhav की साप्ताहिक तेज़ी मंदी की जानकारी | उम्मीद करते हैं आपको आज की ये जानकारी पसंद आयी होगी | अगर आपको आज की ये जानकारी पसंद आयी तो इसे शेयर जरूर कर दें | क्योंकि इसी तरह की जानकारी हम हर रोज़ हमारी इस वेबसाइट पर अपलोड करते रहते हैं |

chane ka bhav

पशुओं का हरा चारा यहाँ उपलब्ध है :- Kisan Napier Farm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *