Tue. May 28th, 2024

सभी किसान साथियों का आज की इस पोस्ट में स्वागत है | आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे हरियाणा की ऐसी पशु बीमा योजना ( Animal Insurance Scheme ) के बारे में जो पशुपालकों के लिए मददगार साबित हो सकती है |

दोस्तों केंद्र सरकार, राष्ट्रीय पशुधन मिशन और राज्य सरकार के संयुक्त सहयोग से “जोखिम प्रबंधन और पशुधन बीमा योजना” पंडित दीनदयाल उपाध्याय सामूहिक पशुधन बीमा योजना के नाम से संचालित की जा रही है | साथियों इस योजना के तहत पिछले पांच वर्षों के लिए 3.90 इस योजना का मुख्य उद्देश्य लगभग 8.51 लाख पशुधन का बीमा करके राज्य के पशुपालकों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना था | साथियों यह योजना आर्थिक नुकसान की भरपाई करने में पूरी तरह से मददगार साबित हुई है |

पशु बीमा योजना

किसान साथियों इस योजना के अंतर्गत अब तक लगभग 57.92 करोड़ रूपये की बीमा दावा राशि बीमा कम्पनी द्वारा पशुपालकों को वितरित की जा चुकी है और लगभग 9.25 करोड़ रूपये की बीमा दावा राशि का भुगतान किया जाना है | पशुपालक साथियों वर्तमान में सरकार द्वारा पशुपालकों के हित को ध्यान में रखते हुए 15 माह की अवधि में न्यूनतम 6.0 लाख पशुधन बीमा के लक्ष्य के साथ इस योजना को पशुपालकों के लिए फिर से शुरू किया गया था | आइये अब हम आपको पशु बीमा की योजना ( Animal Insurance Scheme ) की जानकारी देते हैं |

यह भी पढ़ें 👉 :- सुपर नेपियर घास लगाएं और हरे चारे की कमी दूर करें

पशु बीमा योजना के तहत आने वाले पशु कौन से है ?

  1. दुधारू पशु
  2. भेड़ / बकरी इकाई
  3. सूकर इकाई
  4. भारवाही पशु
  5. ऊंट

इस योजना में आने वाले पशुओं की संख्या

किसान साथियों इस योजना के अंतर्गत पशुपालक अपने पांच बड़े पशुओं और 50 छोटे पशुओं का बीमा करवा सकते हैं | यानि की एक पशुपालक कुल 5 यूनिट (1 बड़ा पशु = 1 यूनिट, 10 भेड़/बकरी = 1 यूनिट) का बीमा करवा सकता है | दोस्तों इसके साथ ही गौशालाएं अपने पांच पशुओं का बीमा भी करवा सकती हैं | इस योजना के तहत पशुपालक अपने पशुओं का बीमा कम प्रीमियम दर पर एक वर्ष और तीन वर्ष के लिए करवा सकते हैं |

इस पशु बीमा की योजना का लाभ कैसे मिलेगा ?

पशुपालक साथियों जिन्होंने चालू वित्त वर्ष के दौरान किसी भी इंश्योरेश कम्पनी से यदि अपने पशुओं का बीमा करवा लिया है ऐसे पशुपालक भी पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशु बीमा की योजना का लाभ ले सकते हैं | दोस्तों आवेदक द्वारा ऑनलाइन आवेदन जमा करने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है | पशुपालक साथियों जो इस योजना के तहत लाभ लेना चाहता है वह SARAL http://saralharyana.gov.in पोर्टल पर आवेदन कर सकता है | आवेदक स्वयं या फिर कामन सर्विस सेन्टर, अंत्योदय केन्द्र, अटल सेवा केन्द्र, ई-दिशा केन्द्र के माध्यम से अपना आवेदन जमा कर सकता है |

इस योजना के लिए क्या दस्तावेज चाहिए ?

  1. मतदाता पहचान पत्र / ड्राइविंग लाइसैंस / राशन कार्ड की प्रति
  2. आधार कार्ड की कापी
  3. बैंक पास बुक की कापी
  4. पैन कार्ड की प्रति (यदि उपलब्ध हो)
  5. रद्द किए गए बैंक चेक की फोटो कॉपी

पशुपालक साथियों ये थी पशु बीमा योजना ( Animal Insurance Scheme ) की जानकारी | आज हमने आपको राष्ट्रीय पशुधन मिशन और पशुधन बीमा योजना की भी जानकारी दी | उम्मीद करते हैं आपको आज की पशुधन की बीमा योजना और राष्ट्रीय पशुधन मिशन की जानकारी पसंद आयी होगी | अगर आपको आज की ये जानकारी पसंद आयी तो इसे आप शेयर जरूर कर दें | क्यूंकि इसी तरह की जानकारी आपको हर रोज़ हमारी इस वेबसाइट पर देखने को मिलेगी |

पशुओं को लगने वाले मक्खी और मच्छरों का स्थायी इलाज :-

पशुओं के मक्खी मच्छरों का इलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *